गुरुवार, 17 अगस्त 2017

पिछली सरकार को योगी सरकार ने बेहतर साबित कर दिया-हीरालाल यादव


माकपा नेताओ ने गाँधी भवन में धरना देकर जिला प्रशासन को सौपा 5 सूत्रीय ज्ञापन
गैर जनपदों से आये कार्यकर्ताओ ने जुलूस निकाल गिराये गये कार्यालय का किया निरीक्षण

बाराबंकी। योगी सरकार ने घोषणा की थी कि प्रदेश के गुण्ड़े उत्तर प्रदेश छोड़ दे! वरना जेलो मे होगे! वही माकपा दफ्तर योगी की पुलिस की मदद से भू-माफियाओ ने लूट-पाट कर दफ्तर को गिरा दिया। और मुख्यमंत्री को सूचना देने के बाद भी कोई कार्यवाही नही हुई। यह विचार गांधी भवन मे धरना देते हुये मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य महासचिव हीरालाल यादव ने कहा कि पिछली सरकार को योगी सरकार ने बेहतर साबित कर दिया है। और इनके राज्य में विपक्षी दलो के कार्यालय भी सुरक्षित नही है। माकपा पूर्व विधायक दीनानाथ ने कहा कि माकपा का दफ्तर ट्रस्ट का दफ्तर है। जो ट्रस्ट ने पार्टी को दिया था। वही माकपा के प्रदेश कमेटी सदस्य प्रेमनाथ राय ने कहा कि अगर प्रशासन यह समझता है कि हम चुप रहेगे तो वह उसकी नसमझी है। धरना कारियो को भाकपा राज्य परिषद सदस्य रणधीर सिंह सुमन, लखनऊ जिला सचिव प्रदीप शर्मा, अशोक तिवारी फैजाबाद मण्ड़ल, सत्यभान सिंह आदि ने सम्बोधित किया। धरना सभा के दौरान पार्टी नेताओ द्वारा जिलाधिकारी को सम्बोधित 5 सूत्रीय ज्ञापन पत्र नायब तहसीलदार को सौपा। ज्ञापन मे कहा गया है कि रुपेश सोनी तथा उसके साथियो के उपर जबरन अपहरण करने, अवैध रुप से कार्यालय भवन ढहाने, लूटपाट करने तथा धमकी देने की धाराओ मे मुकदमा कायम कर उन्हे गिरफ्तार किया जांए। पार्टी कार्यालय को उसके पूर्व रुप से बहाल कराया जाये। ट्रस्ट की जमीन व मकान की कथित खरीद ब्रिकी के साथ सम्पूर्ण प्रकरण की जांच कराई जांए। रुपेश सोनी के अवैध कारनामो मे पुलिस की मिली-भगत तथा पार्टी कार्यालय ढहाने, लूटपाट करने की खुली छूट देने की जांचकर सख्त कार्यवाही की जांये। रुपेश सोनी के साथ आये गुण्ड़ो को चिन्हित कर उनके विरुद्ध भी कार्यवाही की जांए। इसके पश्चात माकपा कार्यकर्ताओ ने जुलूस निकालकर धनोखर चौराहा पर गिराये गये माकपा कार्यालय का निरीक्षण किया। और वहा पर सभा आयोजित कर कार्यकर्ताओ को सम्बोधित किया। इस मौके पर रामेश्वर प्रसाद यादव, सतीश कुमार, राजेन्द्र बहादुर सिंह, गणेश सिंह अनूप, आदि नेता मौजूद रहे।

भूपिंदर पाल सिंह

1 टिप्पणी:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (18-08-2017) को "सुख के सूरज से सजी धरा" (चर्चा अंक 2700) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
स्वतन्त्रता दिवस और श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'